Sunday, October 9, 2022

सरकार ने बदल दिए आपके मोबाइल सिम कार्ड से जुड़े नियम । अब नया सिम कार्ड खरीदने के लिए क्या करना होगा ?


दोस्तो हाली में सरकार ने mobile की सिम कार्ड से जुड़े कुछ नियमो में बदलाव किया है। फिर चाहे किसी भी कंपनी का सिम कार्ड अगर आप इस्तेमाल करते हो। ये नियम सारी टेलीकॉम कंपनियों के मोबाइल सिम कार्ड के लिए लागू होंगे । 

सरकार ने बदल दिए आपके मोबाइल सिम कार्ड से जुड़े नियम । अब नया सिम कार्ड खरीदने के लिए क्या करना होगा ?

For Example Relence  Jio , Airtel , idea , vodafone , जो को Vi हो चुकी है। ऐसे में टेलीकॉम ओपरेटर का सिम कार्ड यूज़ करते हो तो ये 3 , 4 नियम यहाँ पर निकल कर आते है। जो आपको जरूर जानना चाहिए । 


सरकार ने बदल दिया आपके मोबाइल के कुछ नियम से जुड़े सभी काम के बड़ी बातों में आपको बताऊंगा । वही एक ओर बड़ा फैसला । 


सिम कार्ड लेने के उम्र में भी बदलाव हुआ है। इस उम्र के लोग को सिम नही मिलेगा । वही post paid to प्रीपेड तो करने में भी बदलाव हुआ है। जो हाली में सरकार ने KyC वेगेरा करके नियम बदला था । इसके अलावा मोबाइल में लगने वाला सिम कार्ड में लगने वाला charges को भी मात्रा एक रुपया कर दिया है। 


तो आये एक - एक करके में आपको 5 नए नियम बता देता हूं। जिससे आपको जरूर पढ़ना चाहिए । 


सरकार ने बदल दिए आपके मोबाइल सिम कार्ड से जुड़े नियम । अब नया सिम कार्ड खरीदने के लिए क्या करना होगा ? 

नया सिम खरीदने के लिए ग्राहकों को एक कस्टमर फ्रॉम यानी कि CF भरना होता है। ये आमतौर पर उस टेलीकॉम ओर ग्राहकों के पीछे एक समझौता होता है। अब इस फर्म के नियम में समझौता किया गया है। वो ये है। कि date यानी DOT उसका ये कहना है। 


की भारत मे अब नाबालिक उम्र के बच्चों को सिम कार्ड जारी नही किये जायेंगे।  इसमे संसोधसन कर दिया है। नियम में बदलाव कर दिया है। और इसका सीधा मतलब ये है। कि 18 साल से कम उम्र का कोई भी व्यक्ति अब देश के किसी भी टेलीकॉम ओपरेटर से सिम कार्ड नही खरीद सकता है। 


जैसे कि vot डालने की उम्र 18 साल है। वैसे ही आब सिम कार्ड खरीदने की मिमियाम उम्र 18 साल होगी। इसके कम का कोई भी व्यक्ति सिम कार्ड नही खरीद पायेगा । इसके अलावा कुछ rules जैसे कि मैने आपको बताया 


सिम कार्ड कैनेशन कैसे ले सकते है ? 

सिम कार्ड को लेकर अब नए कैनेशन को लेने या प्रीपेड नंबर को postpaid या प्रीपेड को बदलने के लिए को फिजिकल फ्रॉम भरने कि जरूरत नही होगी। टेलीकॉम कंपनी ये फ्रॉम भरने का काम डिजिटल माध्यम से कर सकेंगे। 


मोदी सरकार के बैठक के इस फैसले को भी मंजूरी मिल चुकी है। यानी कि अब से कोई नया मोबाइल नंबर या टेलिफोन कैनेशन लेता है। तो आपका KYC कंप्लीट डिजिटल होगा । यानी कि KYC के लिए आपको किसी भी तरह के काम को जमा कराने की जरूरत नहीं पड़ेगी । 


आपके आधार कार्ड के फोटो कॉपी ड्राइविंग लाइसेंस के फोटो कॉपी ऐसी जरूरत पड़ेगी। कंपलीट डिजिटल kyc होगा । वही postpaid सिम को प्रीपेड कराने के कामो को भी आपको कोई फ्रॉम नही भरना पड़ेगा।


इनके लिए भी डिजिटल kyc मानये होगी। और यहाँ तक के नए नियमो के मुताबिक अब से सिम देने वाली कंपनी के self के जरिय । KYC कर सकेगी। ओर इसके लिए मात्र आपको 1 रुपया का चार्ज देना होगा । 


अगर आप सेल्फ kyc करते है। तो इसलिए आपको charge बिल्कुल केवल 1 रुपया का ही देना होगा । अभी के नियमो के मुताबिक अगर कोई ग्राहक अपने प्रेपैड नंबर को postpaid में या postpaid number को prepaid में change करता है। 


तो उसे हर बार kyc के प्रोसेस से गुजरना होता है। लेकिन अब सिर्फ एक ही बार kyc होगी। फिर चाहे आप अपने नम्बरो को port करवा रहे हो। एक्सचेंज कर वा रहे हों। आपको वापस रिकवासी करने की जरूरत नही पड़ेगी। तो ये भी नियम बदल दिया है। 


सरकार ने सिम कार्ड को लेकर क्या कहा है ? 

तो सरकार ने सिम कार्ड को लेकर कुछ प्रमुख लाभ किये है। जिनके details आप पढ़ सकते है। और अब kyc के लिए मात्र 1 रुपया का खर्चा पड़ेगा । हालकि fast time अगर आप नए सिम कार्ड लोगे तो टेलीकॉम के charges वेगेरा आपको देना पड़ेगा । 


ऐसा नहीं कि 1 रुपया में सिम कार्ड मिल जाएगी। लेकिन री kyc करवाते हो अगर आप postpad से prepaid में जाते हैं। या फिर आप सिम कार्ड को पोर्ट करते है। तो 1 रुपया लगेगा । 


तो दोस्तो आज के लिए इतना ही अब हम चलते है। फिर मिलेंगे नई पोस्ट के साथ तब तक हमारे blogg के अंत तक बने रहने के लिए आप सभी लोगो का दिल से धन्यवाद ,,

No comments:
Write comment