Thursday, November 10, 2022

सीक्रेट पीने से क्या होता है

 दोस्तो एक बार फिर से स्वागत है आपका Technical prithvi में दोस्तों क्या आपको मालूम है। सिगरेट हमारी बॉडी को कैसे नुकसान पहुंचाता है जैसे कि आपकी स्क्रीन पर दिख रहा होगा आदमी कितने ज्यादा तादाद में सिगरेट पीने में लगे हुए हैं।

सीक्रेट पीने से क्या होता है


भला इस बात से कौन अनजान होगा कि सिगरेट हमारे लिए कितनी घातक है। क्योंकि इससे कैंसर तक की बीमारी हमें जकड़ लेती है। अक्सर धूम्रपान करने वाले व्यक्ति के शरीर के अलावा कोई ठिकाना ही ना हो पर यहां बात ये आती है। कि आखिर सिगरेट इतने ज्यादा खतरनाक कैसे होती है। इंसान की उम्र को हर एक सिगरेट के कश के साथ धीरे-धीरे कम कर दी जाती है तो मेरे जितने भी दोस्त सिगरेट पीते हैं।

कोरोना हो जाने पर अस्पताल मत जाना वरना लूट जाओगे

 वह इस पोस्ट को देखें देखें उसके साथ साथ जो लोग सिगरेट नहीं भी पीते वह भी इस पोस्ट को अंत तक देखें क्योंकि इसमें आपको ये पता चलेगा कि भविष्य में कभी भी आप लोगों ने टेंसन में सिगरेट को हाथ लगाने की कोशिश की अंजाम कितना भयानक हो सकता है।


 तो दोस्तों आज मैं मैंने आपको दोस्त prayag kumar अपनी इस पोस्ट में आपको सिगरेट का आपके शरीर के साथ खेलने का पूरा प्रोसेस बताता हूं इसलिए पोस्ट के अंत तक बने रहिए चली पोस्ट को शुरू करते हैं। लेकिन पोस्ट शुरू करने से पहले एक छोटी सी रिक्वेस्ट है पोस्ट के नीचे लाल कलर का सब्सक्राइब बटन दिख रहा होगा उस पर क्लिक करके सब्सक्राइब कर ले। ताकि आपको पोस्ट मिले  सबसे पहले


सबसे पहले हम आपको बता दें कि सिगरेट की हर एक कश के साथ आप 5000 से भी ज्यादा केमिकल सब्सटेंस अपने शरीर तक पहुंचाते हैं। और अगर हम सबसे पहले डर के बारे में बात करें तो यह ऐसा ब्लैक सब्सटेंस है। जो हमारे दांतो को काला करना शुरू कर देता है।


 और इसी वजह से सिगरेट पीने वाले लोगों की दाँत भी काले होते हैं। उसी के साथ ही ज्यादा समय तक सिगरेट पीने वाले लोगों की नाक में धुया जाने की वजह से नाक के अंदर से जाने वाली नशा धीरे-धीरे डैमेज होने लगती है। पर इसका सबसे ज्यादा असर लंच यानी कि पेड़ों पर पड़ता है जिसकी वजह से कई सारी खतरनाक बीमारियां हो जाती है।


 बॉडी में बालों की तरह मौजूद स्ट्रक्चर को डैमेज करना शुरू कर देते हैं। जिनका काम बॉडी में आने वाली हवा को शुद्ध करना होता है। और इसी वजह से स्मोकिंग करने वाले लोगों को सांस लेने में अधिक दिक्कत होती है। और बॉडी में ऑक्सीजन की मात्रा भी काफी कम हो जाती है। अब जो इसके अंदर सबसे खतरनाक चीज होती है। वह है निकोटिन सिगरेट पीने के मात्र 10 सेकेंड के अंदर ही डायरेक्ट आपके दिमाग पर असर डालती है।


 जिसकी वजह से अलग-अलग तरह के हारमोंस निकलते हैं। खासकर के डोपामिन और इसी वजह से इंसान को अच्छा महसूस होता है। और यही कारण है। कि लोगों को सिगरेट की लत लग जाती है। वह डोपामिन रिलीज करना शुरू कर देते हैं। और जब एक बार इंसान को सिगरेट पीने की लत लग जाए तो उसकी पूरी बॉडी का सिस्टम अलग तरीके से काम करना शुरू कर देता है।


 जिस का सबसे पहला असर ब्लड ब्लू में होता है। जहां ब्लड वेसल्स बहुत काफी ज्यादा मोटी हो जाती है। जिसके कारण प्लेटलेट से ज्यादा तेजी से मुंह नहीं कर पाते ऐसी परिस्थिति में प्लेटफार्म हो जाता है। कि कारण होता है कि लोग स्मोकिंग करने की वजह से ज्यादा स्ट्रेस में आने पर आर्ट अटैक और स्ट्रोक की समस्याओं से जूझते हैं।


 सिगरेट के अंदर कुछ ऐसे केमिकल होते हैं। जो हमारी बॉडी के डीएनए पर बहुत बुरी तरह से असर डालते हैं। और इसी वजह से कैंसर जैसी बीमारी हमारे शरीर में कब्जा करना शुरू कर देती है। दार्शनिक और निकल जैसे सब डांस जो कि सिगरेट में मौजूद होते हैं। जो डीएनए को और ज्यादा खराब करने में लग जाते हैं। और आज तो यह हालत हो गई है।


 कि यूनाइटेड स्टेट्स में कैंसर से मरने वाले हर दिन में से एक इंसान की मौत का कारण यानी कि धूम्रपान होता है। जहां सिगरेट केवल फेफड़ों के कैंसर ही नहीं बल्कि इसकी वजह से कई सारी कैंसर होता है। जैसे माउथ कैंसर कैंसर किडनी कैंसर लीवर कैंसर कई सारे कैंसर है। जो सिगरेट पीने के कारण ही होता है। और लड़की से लेकर लड़का भी सीक्रेट पिता है।और सिर्फ इतनी समस्याएं थोड़ी ना है।


 क्योंकि आंखों की रोशनी कम करने के साथ-साथ आपकी हड्डियों को भी काफी ज्यादा कमजोर बना देती है। इसके अलावा महिलाओं को प्रेग्नेंट होने में समस्याएं आती है। ऐसे में हम आपको बता दें कि जो लोग स्मोकिंग करना छोड़ देते हैं। उनकी जिंदगी में वाकई काफी अच्छे बदलाव आते हैं। उदाहरण के तौर पर जब ग्रेट पीने वाला अपनी फाइनल सिगरेट पी लेता है उसके 20 मिनट बाद ही उसकी हार्ड ब्लड प्रेशर नार्मल हो जाता है।


 अगर इंसान को सिगरेट पिए 12 घंटे हो गए तो उसकी बॉडी में जहरीले कार्बन मोनोऑक्साइड का लेवल भी कम होने लगता है। साथी साथ अगर आपने पूरा 1 दिन सिगरेट नहीं पी तो आपको हार्ट अटैक होने की संभावनाएं काफी कम हो जाती है। और अगर किसी ने 2 दिन तक सिगरेट नहीं पी तो उसकी नाक मौजूद ऑर्गन से वापस से सही तरह से काम करना शुरू कर देते हैं।


 इससे वह चीजों को अच्छी तरह से संभाल कर सकता है अगर आप इतने अच्छे हो जाते हैं कि आपने 3 दिनों तक सिगरेट नहीं पी है तब तो आपकी बॉडी में और ज्यादा बदलाव होने लगते हैं क्योंकि सिगरेट छोड़ने के 1 महीने बाद से ही फेफड़े वापस से रिकवर करना शुरू कर देते हैं। यानी कि आप चाहे जितने भी बड़े सिगरेट के नशेड़ी क्यों ना हो अगर आपने यह फैसला कर लिया कि आपको सिगरेट पीना नही है।


 तो पहले जैसा महसूस करना शुरू कर देंगे और फिर आपकी बॉडी में जाने वाली गियर को फ्रेश करने वाले सब्सटेंस भी धीरे-धीरे रिकवर होकर आपको अच्छा महसूस कराने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे बस आपको सिगरेट छोड़ने के लिए कह रहा हु। और आप अपने सिगरेट छोड़ने के 1 साल बाद एक नॉर्मल इंसान की तरह बन जाएंगे जिससे किसी भी चीज का कोई भी खतरा नहीं है।


 चाहे वो कैंसर हो या दिल से जुड़ी समस्याएं हां बस एक चीज याद रखेगा सिगरेट छोड़ने के बाद शराब और बाकी तंबाकू से जुड़ी चीजों का सेवन करना फिर शुरू कर देना कोई फायदा नहीं होगा बाकी दोस्तों आप में से कौन-कौन सिगरेट पीता है। और कौन-कौन सिगरेट के सख्त खिलाफ है वह सभी हमें कमेंट में अपनी राय इस पोस्ट के बारे में जरूर बताना ऐसे ही जबरदस्त इनफॉर्मेटिव पोस्ट देखने के लिए हमारे website को सब्सक्राइब करें।

तो फिर मिलते है।नई पोस्ट के साथ तब तक के लिए जय हिंद जय भारत

धन्यवाद

No comments:
Write comment